मंगलवार, अगस्त 06, 2019

ये मोदी फिर से खेल गया

हुए खान गम्भीर 
बैठ कर झेलम जी के तीर
बहाएं अखियन से वो नीर 
ना दूध मिला ना खीर
हाथ से जा फिसला कश्मीर
कहिन ये मोदी फिर से खेल गया
फिर बीच बजरिया ठेल गया
अमरीका भी हो आये
हम हुंआ भी नैन बहा आये
चच्चा सैम को पटा लिहे थे
साइड में अपनी सटा लिहे थे
उनहूँ से भी ये ना काँपा
उनके भी रोष को ना भांपा
सारे अनुच्छेद मिटा डाले
सीने में भोंक दिए भाले
अब कौन राग हम गाएंगे
क्या जनता को समझाएंगे
ये पाकी सेना भी मिल कर
हमरा ही बैंड बजाएगी
ऐसा खेल ये खेल गया
हमरी कुर्सी छिन जाएगी

2 टिप्‍पणियां:

HARSHVARDHAN ने कहा…

आपकी इस पोस्ट को आज की बुलेटिन 60 साल के हुए - पर्यावरण कार्यकर्ता राजेन्द्र सिंह - ब्लॉग बुलेटिन में शामिल किया गया है। कृपया एक बार आकर हमारा मान ज़रूर बढ़ाएं,,, सादर .... आभार।।

Enoxo ने कहा…



आपके ब्लॉग पोस्ट की चर्चा नरेंद्र मोदी से शिकायत कैसे करे ? और बेस्ट 25 में की गई है

कृपया एक बार जरूर देखें

Enoxo multimedia